महिला को बंधक बनाने वाले चोर को ग्रामीणों ने पीटा


दुमका । गोपीकांदर थाना क्षेत्र के कुश्चिरा गांव में चोरी की नियत से गृहणी को बंधक बनाने वाले युवक को ग्रामीणों ने धर-दबोचा। युवक को पकड़ने के बाद जुटी भीड़ ने आरोपी पर जमकर हाथ साफ़ किया और ग्राम प्रधान के घर के सामने नारियल के पेड़ में रस्सी से बांध दिया। घटना की सूचना पर गोपीकांदर थाना प्रभारी विलकन बागे दल-बल के साथ गांव पहुँचकर युवक को अपने हिरासत में लिया है। आरोपी युवक का नाम सोनू तुरी है। वह पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा का रहने वाला है। घटना के सम्बंध में गृहणी आलिया खातून ने बताया कि उनके पति कबाड़ी वाले है। प्रतिदिन वह सुबह घर से निकल जाते हैं। शुक्रवार को भी उसक पति और बेटा ठेला लेकर घर से निकल गया।

सुबह करीब 9 बजे सोनू घर के आस-पास टहल रहा था। आलिया जैसी ही घर के अंदर प्रवेश किया सोनू भी पीछे से उसे पकडर कर गर्दन में हसुवा लगा दिया। घर में रखे पैसे निकालने का दवाब बनाने लगा। इसी बीच गांव के ही कुछ युवक उस रास्ते से गुजर रहा था। आलिया युवकों को देखकर हल्ला करने लगा, जिसके बाद युवकों ने आरोपी सोनू को पकड़ लिया। आलिया ने बताया कि उसके पति चीनू शेख के मौजूदगी में भी सोनू और उसके साथी दो दफा घर में रखे पैसे और बाकी कीमती समानों को चोरी करने का प्रयास कर चुका है लेकिन विफल रहा। चीनू शेख मूलरूप से पश्चिम बंगाल के मुरारोई थाना क्षेत्र के बीरकिटी गांव के रहने वाले है। वह रोजगार के तलाश में वर्षों से कुश्चिरा में भाड़े के घर में रहकर रोजी-रोटी चलाता है। आपको बता दें कि सोनू का अमड़ापाड़ा में चोरी का आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। अमड़ापाड़ा के दुकानों और घरों में होने वाले चोरी के पीछे सोनू का हाथ रहता है। एक महीने पूर्व भी सोनू अमड़ापाड़ा के एक किराना स्टोर का छप्पर तोड़ कर चोरी के प्रयास के दौरान पकड़ा गया था, लेकिन सांठ-गांठ ने उसे जेल जाने से बचा लिया था।


169 views0 comments