दुमका में वज्रपात से तीन की मौत, अंतिम दर्शन करने गाँव पहुंचे कृषि मंत्री


दुमका । जरमुंडी प्रखंड क्षेत्र में शनिवार को वज्रपात की दो अलग-अलग घटनाओं में एक किशोर, एक महिला सहित तीन लोगों की मौत हो गई है। जरमुंडी के नवाडीह में शनिवार को वज्रपात से घायल महिला जागो देवी की रविवार को दुमका के मेडिकल कालेज अस्पताल में मौत हो गई। इसके साथ ही वज्रपात की घटना में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर तीन पहुंच गया है। वज्रपात से घायल दो महिलाओं का अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है। रविवार को स्थानीय विधायक सह कृषि मंत्री बादल ने मंडलडीह व खरसुंडी गांव जाकर वज्रपात से मृत व्यक्तियों के परिजनों से मुलाकात की और मुआवजा के तौर पर सरकार की ओर से चार-चार लाख रुपये दिलवाने का भरोषा दिया। यहां बता दें कि वज्रपात से पुतलीडाबर पंचायत अंतर्गत मंडलडीह गांव में खेत में काम कर रहे 30 वर्षीय जितेंद्र पुजहर एवं 14 वर्षीय किशोर कलुआ पुजहर उर्फ बाबू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। जबकि बाराटांड़-नावाडीह गांव में खेत में काम कर रही पांच महिला जागो देवी, पानवती देवी, रूपा कुमारी, चिंतामणि देवी व रूपाली देवी घायल हो गई थी। जितेन्द्र पूजहर मूल रूप से देवघर जिला के घेरमारा बांक गांव का रहने आया था। वह बासुकीनाथ अपने ससुराल आया हुआ था और खोती में हाथ बंटाने के लिए गया था कि वज्रपात की चपेट में आ गया। उसके साथ ही 14 वर्षीय कलुआ पुजहर भी खेत में काम कर रहा था कि उसपर भी ठनका गिर गया। सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था। जागो देवी, पानवती देवी एवं रूपा कुमारी को बेहतर चिकित्सा के लिए मेडिकल कालेज अस्पताल रेफर किया गया। जहां रविवार को जागो देवी की मौत हो गई। वज्रपात की चपेट में आने से घायल दोनों महिलाओं-पानवती देवी एवं रूपा कुमारी का इलाज चल रहा है। कृषि मंत्री ने पहले गांव और फिर श्मशान घाट तक जाकर शवों का अंतिम दर्शन किया। उन्होंने सरकार से चार-चार लाख रुपये की राशि यथाशीघ्र दिलवाने, घायलों के बेहतर इलाज एवं हर संभव मदद का आश्वासन दिया। मौके पर जरमुंडी एसडीपीओ उमेश सिंह, जरमुंडी थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक नवल किशोर सिंह, एसआई अनुज सिंह, कृषि मंत्री के सहयोगी भरत कापरी, मिथिलेश मिश्रा, छोटू मिश्रा, कांग्रेस महासचिव कुंदन पत्रलेख, कांग्रेस नगर अध्यक्ष रोहित रंजन, अनुज कुशवाहा, सत्यनारायण यादव, पप्पू दर्वे, चंदन मंडल, मुरारी गुप्ता, अनिल राव उर्फ बंटी राव, लालू यादव, नंदलाल यादव, विजय यादव, प्रकाश यादव, विजय दे, रमेश यादव, श्रीकांत यादव आदि मौजूद थे।



105 views0 comments