राज्यपाल पुलिस लाईन मैदान में करेंगे झंडोत्तोलन , नहीं हुआ एट होम व सांसकृतिक कार्यक्रम



दुमका। राज्यपाल रमेश बैस शनिवार की सुबह रांची-दुमका इंटरसिटी ट्रेन से दुमका पहुंचे। उनके लिए ट्रेन में अलग से एक विशेष सैलून लगाया गया था। राज्यपाल चेहरे पर मास्क लगा कर ही ट्रेन से उतरे और अधिकारियों ने भी मास्क लगा कर उनका स्वागत किया। राज्यपाल ने मास्क लगाये हुए ही गार्ड ऑफ ऑनर लिया।


मौके पर संताल परगना प्रक्षेत्र के डीआइजी सुदर्शन प्रसाद मंडल, उपायुक्त रविशंकर शुक्ल, एसपी अंबर लकड़ा समेत कई प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे। राज्यपाल शनिवार की सुबह 9 बजे दुमका के पुलिस लाईन मैदान में आयोजित राजकीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में परेड का निरीक्षण करने के बाद राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे, तिरंगे को सलामी देंगी और जनता को संबोधित करेंगे। कोरोना संक्रमण के कारण राज्यपाल के कार्यक्रम में पूरी सावधानी बरती जा रही है। दुमका राजभवन के सभी कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट करवाया गया है। इसके अलावा परेड में हिस्सा लेनेवाले प्लाटूनों में शामिल सदस्यों का भी कोरोना जांच करवाया गया है। कोरोना काल के कारण पुलिस लाईन में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में भी इस बार सीमित संख्या में अतिथियों के बैठने की व्यवस्था की गयी है। स्वतंत्रता दिवस समारोह के तहत राज्यपाल के हाथों कोरोना वारियर के रूप में चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों आदि को सम्मानित भी किया जायेगा।



तारापीठ मंदिर में राज्यपाल ने किया पूजा

दुमका रेलवे स्टेश से राज्यपाल राजभवन पहुंचे और फिर सिकामु विवि के एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वह सड़क मार्ग से तारापीठ के लिए रवाना हो गए। उनके साथ उनकी धर्मपत्नी समेत स्वजन भी तारापीठ गए हैं। इस दौरान राज्यपाल और उनका परिवार कुछ देर के लिए मसानजोर रिसोर्ट में भी रूका। कोरोना के कारण लगातार दूसरे वर्ष स्वतंत्रता दिवस के पूर्व संध्या पर आयोजित किये जाने वाला राज्यपाल का एट होम कार्यक्रम और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया।









122 views0 comments