top of page

एक करोड़ की लागत से बनेगा एसपी कॉलेज की चारदीवारी विधायक बसंत सोरेन ने किया शिलान्यास


दुमका. संताल परगना महाविद्यालय दुमका की चारदीवारी निर्माण का शिलान्यास दुमका के विधायक बसन्त सोरेन ने किया। इसके निमित करहड़बिल मौजा के ग्राम प्रधान प्रधान बेसरा के नेतृत्व में पारंपरिक विधि विधान से पूजा अर्चना कराई गई। विधायक वसंत सोरेन के महाविद्यालय पहुंचने पर प्राचार्य डॉ खिरोधर प्रसाद यादव के नेतृत्व में सभी शिक्षकों ने उनका भव्य स्वागत किया। सर्वप्रथम संताली विभाग की विभागाध्यक्षा डॉ होलिका कुमारी मरांडी एवं फूलों झानो बालिका छात्रावास की सहायक अधीक्षका डॉ बसंती हांसदा की देखरेख में महाविद्यालय की छात्राओं ने पारंपरिक रूप से नृत्य - गान से स्वागत करते हुए महाविद्यालय के संस्थापक एवं दुमका के प्रथम सांसद बाबा लाल हेंब्रम की आदमकद प्रतिमा तक ले गए जहां माननीय विधायक एवं अतिथियों ने बाबा लाल हेंब्रम की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। तत्पश्चात विधायक बसन्त सोरेन ने ग्राम प्रधान सहित महाविद्यालय के प्राचार्य, शिक्षक, शिक्षिकाओं एवं कार्यपालक अभियंता उदय सिंह की उपस्थिति में पूजा कर एवं नारियल फोड़कर विधिवत चहारदीवारी का शिलान्यास किया। इसके पश्चात माननीय विधायक बसंत सोरेन शिक्षक, शिक्षिकाओं एवं कर्मचारियों तथा छात्र-छात्राओं के बीच सभा कक्ष में पहुंचे। वहां छात्राओं ने पारंपरिक स्वागत गान एवं नृत्य से समां बांध दिया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर के पी यादव ने पुष्पगुच्छ एवं अंग वस्त्र से मुख्य अतिथि बसंत सोरेन एवं ग्राम प्रधान श्री प्रधान बेसरा तथा कार्यपालक अभियंता उदय सिंह का स्वागत किया। विदित हो कि विधायक बसंत सोरेन एवं ग्राम सभा की अनुशंसा पर जिला प्रशासन की निधि से महाविद्यालय के चहारदीवारी के निर्माण के लिए लगभग एक करोड रुपए की लागत से योजना की निविदा हुई है। उक्त प्रकल्लित राशि से जिला प्रशासन के द्वारा विशेष कार्य प्रमंडल की देखरेख में उक्त कार्य किया जाना है।

अपने स्वागत वक्तव्य में प्राचार्य डॉक्टर यादव ने उनके योगदान के प्रति आभार जताते हुए महाविद्यालय के कई मूलभूत आवश्यकताओं की ओर विधायक का ध्यान भी आकृष्ट कराया। मसलन महाविद्यालय की पुरानी जर्जर इमारत के छत का गिरना, जीर्ण शीर्ण परीक्षा प्रशाल तथा वर्ग कक्षा का अभाव, लैब लाइब्रेरी की समस्या आदि कमियों की ओर माननीय विधायक जी का ध्यान आकृष्ट कराया गया। इसके संबंध उन्होंने एक मेमोरेंडम भी दिया। मौके पर महाविद्यालय की आवश्यकताओं को देखते हुए विधायक जी ने इसे पूरा करने का भरपूर आश्वासन दिया। अपने ऑडिटोरियम निर्माण, वर्ग कक्ष का निर्माण, 200 छात्राओं एवं 500 छात्रों के लिए एक साथ बैठकर अध्ययन करने हेतु पुस्तकालय उपलब्ध कराने का उन्होंने भरोसा दिलाया। इस अवसर पर महाविद्यालय के शिक्षक डॉ संजीव कुमार, डॉ कुमार पियूष, डॉ वेद प्रकाश सहाय, डॉ पूनम बिंझा, डॉ कलानंद ठाकुर, डॉ इंद्रनील मंडल, प्रो के बी टोप्पो, डॉ सैमुएल किस्कू, डॉ इंद्रजीत कुमार, डॉ होलिका कुमारी मरांडी, डॉ बसंती हांसदा, डॉ सत्यम कुमार, डॉ कुमार सौरभ, प्रो अमन राज, डॉ अनीता चक्रवर्ती, डॉ त्रिजा जेनिफर टोप्पो, डॉ लीना, डॉ अविनाश हांसदा, प्रो निर्मल मुर्मू, डॉ यदुवंश, डॉ कमल, श्री सिद्धोर हांसदा, कार्यालय प्रधान मरियम टुडू, संगीता गांगुली, गोपाल झा, अमियो पंजियारा, कुर्बान अंसारी आदि अनेक महाविद्यालय के कर्मी उपस्थित थे। कार्यक्रम में मंच संचालन डॉ यदुवंश यादव ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन डॉ सत्यम कुमार के द्वारा दिया गया। उक्त जानकारी कॉलेज कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ कुमार सौरभ द्वारा दी गयी।

80 views0 comments

コメント


Post: Blog2 Post
bottom of page