दुमका में महिला को नंगा कर घुमाने के मामले में प्रेमी गिरफ्तार



रानीश्वर । प्रेम के जाल में फांसकर गांव की महिला को भागा ले जाने और फिर पत्नी समेत एक दर्जन लोगों के साथ मिलकर 18 अगस्त को प्रेमिका की पिटाई करते हुए निर्वस्त्र कर जूतों की माला पहना कर गांव में घुमाने वाले प्रेमी मानिक मिर्धा को रानीश्वर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे मंगलवार को कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत करने के बाद 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। इस मामले में एक दर्जन लोगों पर मामला दर्ज 20 अगस्त को दो महिला समेत छह लोगों को जेल भेजा गया था। थाना प्रभारी राजीव प्रकाश ने बताया कि मानिक मिर्धा ही पूरे घटनाक्रम का मास्टर माइंड था। मामला दर्ज होने के बाद वह इधर उधर भागा चल रहा था। मंगलवार की सुबह गुप्त सूचना के आधार पर उसे उसके कदमा गांव से गिरफ्तार किया गया। 20 अगस्त को पुलिस ने प्रेमी की पत्नी मिनी देवी, रासमुनि देवी, सोनू मिर्धा, सनातन मिर्धा, राजू मिर्धा व मदन हांसदा को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। मसानजोर की रहने वाली महिला की शादी रानीश्वर के एक गांव में हुई है। छह माह पहले मानिक मिर्धा और इस महिला के बीच प्रेम हो गया। एक माह वह उसके साथ पश्चिम बंगाल के बघ्र्द्धमान चली गई। 18 अगस्त की शाम दोनों वापस कदमा गांव लौटे। रात करीब 10 बजे घर के एक दर्जन लोगों ने महिला को पकड़ा। पहले जमकर पिटाई की, फिर उसके कपड़े फाड़कर निर्वस्त्र कर गले में जूतों की माला पहना कर उसे गांव में घुमाया। पुलिस ने महिला के बयान पर गांव के सोनू मिर्धा, सनातन मिर्धा, राजू सोरेन, रासमुनि डोमिन, फुलमनी देवी, सरस्वती देवी, कुसल देवी, मैनी देवी, मदन हांसदा, माणिक मिर्धा, तलावती देवी, फूलकुमारी देवी के खिलाफ भादवि की धारा 147, 148, 504, 506, 354 बी, 379, 509/34 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

682 views0 comments