दुमका में छठी की छात्रा के साथ सामुहिक दुष्कर्म


दो नाबालिग समेत चारों आरोपी गिरफ्तार


दुमका। जिले के शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र में छठी वर्ग में पढ़ने वाली एक नाबालिग 12 वर्षीय लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। सबसे बड़ी बात यह है कि सभी आरोपी पीड़िता के गांव के ही है। पुलिस ने मामलों में गंभीरता दिखाई है और सभी चारों आरोपियों को धर दबोचा है। गिरफ्तार चार आरोपियों में दो नाबालिग हैं। गिरफ्तार आरोपियों में सुमित देहरी (16), विनोद हेम्ब्रम (24), परवीन मुर्मू (17) और छुतर हेम्ब्रम (18) शामिल हैं।

सामुहिक दुष्कर्म की वारदात सामने आने पर शनिवार को शिकारीपाड़ा थाना पहुंचे दुमका एसडीपीओ नूर मुस्तफा ने बताया कि गैंगरेप की यह घटना 11 अगस्त को ही हुई है लेकिन पीड़िता के पिता बाहर रहते थे। 20 अगस्त को उन्होंने थाने में इसकी सूचना दी। इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए चारों आरोपियों को पकड़ लिया है जिसमें दो नाबालिग युवक शामिल है। पीड़िता के पिता के बयान पर कांड संख्या- 100/21 में भादवि की धारा-- 376(डी) और 4/8 पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।


क्या है पूरा मामला

शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव में रहनेवाली छठी क्लास की छात्रा अपनी दादी के साथ रहती है। उनके माता-पिता अपने काम के लिए दूसरे गांव में रहते हैं। 11 अगस्त की रात गांव के कुछ मनचले नाबालिक लड़की के घर दरवाजा तोड़कर घुस गए और डरा धमका कर उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। जाते हुए दुष्कर्मीयो ने यह धमकी दिया कि अगर घटना के बारे में उसने किसी को बताया तो उसे और उसके परिवार के सदस्यों को मार दिया जाएगा। गैंगरेप के कारण लड़की कई दिनों से गुमसुम रहने लगी। लड़की की दादी बीमार रहती थी। इसलिए उसने गांव के ग्रामीणों को आपबीती बताई। ग्रामीणों ने पीड़िता के पिता को खबर दिया। शुक्रवार की देर रात उसके पिता थाने पहुंचे और मामला दर्ज कराया। पुलिस फौरन हरकत में आई और शनिवार की सुबह तक चारों आरोपियों को पकड़ लिया।




248 views0 comments