दुल्हन की तरह सज गया दुमका का छठ घाट, दिया जाएगा अस्ताचल सूर्य को अर्घ्य


रंगीन रौशनियों से जगमगा रहा खूटाबांध तालाब, पुसारो नदी घाट तैयार

दुमका। सूर्योपासना का महा पर्व छठ के तहत मंगलवार को छठ व्रतियों ने पूजा किया और खरना का प्रसाद वितरित किया गया। सूप व डालों में रखकर चढ़ाये जानेवाले फल आदि के खरीददारी के लिए दिनभर बाजार में भीड़ लगी रही। दुमका के खूटाबांध तालाब , बड़ा बांध तालाब, दुधानी बड़ा बांध तालाब, रसिकपुर तालाब, , हरणाकुण्डी जखहा पोखर, बंदरजोरी तालाब, लखीकुण्डी तालाब, पुसारो नदी घाट और कुरूवा नदी घाटों में साफ-सफाई एवं रंग रोगन का काम पूरा कर लिया गया है जबकि लाईटिंग एवं गेट आदि का काम अंतिम चरण में है। शहर के खुटा बांध छठ घाट छठ व्रतियों के लिये सज-धज कर तैयार है। छठ पूजा समिति के अध्यक्ष विनोद कुमार लाल ने बताया कि खूँटाबाँध तालाब में 61 वें छठ महापर्व के आयोजन को लेकर भव्य एवं आकर्षक तैयारी की गई है। भव्य आकर्षक लाइटिंग, तोरण द्वार, घाटों की साफ-सफाई, रंग रोगन एवं घाट में आयरन बार एवं नेट से बैरिकेडिंग का कार्य पूर्ण कर लिया गया है ताकि कोई भी छठव्रती गहरे पानी में प्रवेश न कर सके। घाट परिसर में सड़क पर भक्तजनों के लिए रेड कारपेट बिछाया जा रहा है। बिनोद लाल ने कहा कि इस बार पैसेज बड़ा बना है इस लिए कमिटी के द्वारा अतिरिक्त रेड कार्पेट ख़िरदा गया है ।


सचिव अशोक कुमार राउत ने बताया कि इस बार खूटाबांध तालाब में बेहतरीन सजावट की गयी है। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए घाट की ओर जानेवाले सभी रास्तों पर बैरिकेटिंग लगाया गया है और जगह-जगह दो एवं चार पहिया वाहनों के लिए पार्किंग स्थल चिन्हित किये गये हैं। उन्होंने बताया कि छठ व्रतियों के कपड़े बदलने के लिए चेंजिंग रूम भी बनाया गया है। तालाब के विकास भवन छोर में भगवान भाष्कर की प्रतिमा स्थापित की गयी है। समिति के उपाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार यादव ने बताया कि दोनों मुख्य द्वार पर समिति के तरफ से सभापति भवन में छठ व्रतियों के लिए निःशुल्क दूध, घी, अगरबत्ती, दतवन आदि की व्यवस्था रहेगी।


समिति द्वारा सुरक्षा के दृष्टिकोण से दो नाव में चार गोताखोर की भी व्यवस्था की गई है जो पूजा के दौरान सक्रिय रहेंगे। उन्होंने बताया कि भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी दुमका शाखा की ओर से जरूरतमंद श्रद्धालु भक्तजनों को निशुल्क फेस मास्क एवं प्राथमिक उपचार की व्यवस्था किया गया है। बड़ा बांध तालाब में भी छठ पूजा की तैयारी की गई है। इस तालाब में अभी भी सफाई पर विशेष जोर दिया जा रहा है। लाइटिंग की व्यवस्था की गई। रसिकपुर बड़ा बांध, दुधानी बड़ा बांध में पूर्व के वर्ष के तरह तैयारी की गई है। स्कूल पाड़ा राखाबनी तालाब में भी छठ पूजा की तैयारी पूरी कर ली गई है। पुसारों नदी घाट में छठव्रतियों के अर्घ्य के लिये घाट बनाया गया है।



डीसी के नेतृत्व में प्रशासनिक व अधिकारियों ने की तालाब की सफाई

दुमका । उपायुक्त रविशंकर शुक्ला की अगुवाई में एसपी अंबर लकड़ा के अलावा सशस्त्र सीमा बल के करीब 50 से अधिक जवानों ने मंगलवार को श्रमदान कर बड़ा बांध के छठ घाटों की सफाई की। घाटों का रंग रोगन भी किया गया। उपायुक्त ने जिला प्रशासन के पदाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों सभी को टुकड़ी में बांट कर सफाई कराई। डीसी समेत अधिकारियों ने छठ घाट की सीढ़ियों में जमी काई को साफ किया। सभी ने घूम- घुम कर तालाब के चारों ओर सफाई की। काई के अलावा धूल को साफ कर सभी सीढ़ी और बेंच को पानी से धोया गया। तालाब में गंदी चीजों को निकालने के बाद चारों और ब्लीचिंग का छिड़काव किया गया। इस दौरान तालाब में कपड़े धो रहे लोगों से डीसी ने अनुरोध किया कि छठ तक यहां कोई गंदगी नहीं करें। पानी को साफ रखने का प्रयास करें।


सफाई अभियान के दौरान उपायुक्त को लोगों ने बताया कि अस्पताल का गंदा पानी छोटी सी नाली के रास्ते तालाब में आता है। डीसी ने स्थल निरीक्षण कर नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश दिया कि तत्काल पानी को बंद कराएं। तालाब के समीप रहने वालों के घर का सारा गंदा पानी इसी में गिरता है। इसे रोकने के लिए कदम उठाया जाए। उपायुक्त ने नगर परिषद को निर्देश दिया कि तालाब के ठीक पीछे हाईमास्ट लाईट लगाया जाए। इससे तालाब की सुंदरता बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में तालाब और सुंदर बनाने के लिए काम किया जाएगा। सफाई अभियान में एसएसबी के द्वितीय कमान पदाधिकारी सतीश कुमार, सहायक कमांडेंट गुलशन कुमार, एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी, डीपीओ अरूण कुमार, थाना प्रभारी देवव्रत पोददार, एएसआइ जीतेंद्र साहू, अजीत कुमार, श्वेता कुमारी, नगर परिषद के सिटी प्रबंधक सुमित सोरेन, नजीबुल्लाह अंसारी आदि शामिल थे।


1200 फ़ीट में बना ट्रस्ट पैसेज होगा आकर्षण का केन्द्र

दुमका । खूँटाबाँध तालाब को पूरे दुल्हन की तरह सजाया गया है। चंदननगर, रामपुरहाट और स्थानीय विद्युत एजेंसी के कारीगरों द्वारा तैयार आकर्षक विद्युत सज्जा के साथ तीन मुख्य प्रवेश द्वार और कोलकाता में बुर्ज खलीफा पंडाल बनानेवाले कारीगरों द्वारा तैयार करीब 1200 फ़ीट में बना ट्रस्ट पैसेज इस बार खास होगा। बुधवार की शाम भक्ति जागरण का आयोजन किया जाएगा जिसके लिए भव्य एवं आकर्षक मंच बनाया गया है। समिति के अध्यक्ष बिनोद कुमार लाल ने कहा कि पूजा के आयोजन से जुड़े सभी एजेंसी और सदस्यों की कड़ी मेहनत और समर्पण एवं सामूहिक प्रयास से खूँटाबाँध तालाब में छठ महापर्व के सफल आयोजन को लेकर समिति तत्पर है। छठ के सफल आयोजन में समिति सदस्यों के अलावा जय श्री साउंड, जय गुरु साउंड, मुन्ना लाइट, राजू लाइट, अमित लाइट, कमलेश लाइट, नाहिर लाइट, चक्रवर्ती डेकोरेटर, बापन, दाता डेकोरेटर और स्थानीय मूर्तिकार रवि पाल महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है।

289 views0 comments