दुमका पुलिस ने पासिंग धंधे का किया खुलासा, दो गिरफ्तार चार फरार


आशीष बर्णवाल समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ दर्ज की प्राथमिकी

दुमका । शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र में पुलिस ने पासिंग के धंधे का खुलासा करते हुए ग्रामीण चिकित्सक डाक्टर आशीष कुमार बर्णवाल सहित आधा दर्जन लोगों के खिलाफ गैर जमानतीय धाराओं में प्राथमिकी दर्ज करते हुए एक ट्रक के चालक और खलासी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने यह कार्रवाई शिकारीपाड़ा कालेज के सामने शनिवार की रात में ट्रक पासिग कराने वाले गिरोह के सदस्यों और जांच के दौरान पकड़े गये ट्रक चालक एवं खलासी से हुए झड़प के बाद की है। पुलिस ने ट्रक चालक अमर कुमार और खलासी सागर पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। दोनों बिहार राज्य के भागलपुर जिले के कजरेली थाना क्षेत्र के बहादुर गांव के रहनेवाले हैं। पुलिस ने चिप्स से लदे ट्रक को जब्त कर थाना में खड़ा कर दिया है।

पासिंग करने बाले माफिया का दबदबा ऐसा की ट्रक ड्राइवर पुलिस से ही उलझ गया

पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी सुशील कुमार के अनुसार थाना के सहायक अवर निरीक्षक रामवचन राम ने रात्रि गश्ती के दौरान शिकारीपाड़ा कालेज के सामने पत्थर चिप्स लदे एक ट्रक को जांच के लिए रोका तो चालक पुलिस पर भड़क गया। उसने कहा कि जब वे लोग पासिग कराने वाले से पैसा लेते हैं तो जांच के लिए ट्रक को क्यों रोक रहे हैं। फिर ट्रक चालक ने पासिग कराने वाले को फोन कर बुलाया तो कुछ स्थानीय पासिग करने वाले मौके पर पहुंचे। ये लोग पुलिस से दुर्व्यवहार करने लगे साथ ही पुलिस के कार्रवाई में बाधा पहुंचाने लगे। उन्होंने चालक को ट्रक ले जाने को कहा। लेकिन पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए ट्रक चालक अमर कुमार एवं खलासी सागर पासवान को गिरफ्तार कर लिया। ट्रक सरसडंगाल से चिप्स लादकर बिहार जा रहा था।

जाने किन-किन धाराओं में दर्ज की गई है प्राथमिकी

पुलिस ने इस मामले में ट्रक चालक अमर कुमार, खलासी सागर पासवान, आशीष कुमार वर्णवाल, ट्रक के मालिक एवं अन्य दो व्यक्तियों के विरुद्ध भादवि की धारा 323, 341, 342, 353, 379, 414, 504, 506, 120बी, झारखण्ड लघु खनिज समुदान नियमावली 2004 की धारा 4/54, झारखण्ड खनिज परागमन चलान विनिनियम 2005 की धारा 3 और भारतीय वन अधिनियम की धारा 33 के तहत कांड संख्या 102/21 दर्ज किया है। इस मामले में चालक एवं खलासी को पुलिस ने रविवार को जेल भेज दिया है।




1,094 views0 comments