दुमका: भीषण गर्मी में पिछले 24 घण्टा से बिजली नही रहने से जनजीवन अस्तव्यस्त




बांस के बने पंखे से बच्चे को हवा देती मां

दुमका. पिछले 24 घण्टा से उपराजधानी के लोगो का जीवन उम्मस भड़ी गर्मी और बिजली के आपूर्ति ठप रहने से बदहाल हो गया है, हांलाकि सोमवार की साम हुए बारिश से लोगों ने राहत महसूस की. बिजली आपूर्ति बाधित होने से सबसे अधिक परेशानी महिलाओं और बच्चों को हो रही है, बिजली नही रहने के वजह से शहरी जलापूर्ति योजना भी ठप है. दरअसल दुमका में बीती रात तेज आंधी और बारिश 7 से 8 बजे के बीच आयी और यही बारिश कई परेशानियों की वजह बन गई.



दरअसल, तेज आंधी में जिले के कई इलाकों में पेड़ गिर गए. महारो से दुमका के बीच 4 किलोमीटर के बीच लगभग 6 पेड़ गिर गए, जिससे बिजली के तार का भी नुकसान हो गया.और रात से ही पूरे दुमका में बिजली गुल है. रातभर बिजली आपूर्ति बाधित रहने की वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही है. एक तरफ बिजली गुल, दूसरी ओर पानी नहीं रहने से लोगों को यह समझ नहीं आ रहा है कि वे क्या करें. बिजली और पानी नहीं होने के कारण लोगों के कई काम रूके हुए हैं. हालांकि बिजली विभाग टूटे तार की मरम्मती में रात से ही लगा हुआ है. फिर भी 24 घण्टे बीत जाने के बाद भी बिजली सुचारू रूप से नही शुरू हो सका है.



कार्यपालक अभियंता अमिताभ सोरेन ने बताया कि जहां तार क्षतिग्रस्त हुआ है उसकी मरम्मती का काम चल रहा है. उन्होंने कहा कि इसके लिए हमारी पूरी टीम लगी हुई है.वैसे हम आपको बता दें दुमका के लिए कोई नई बात नही है यंहा जब भी बारिश के साथ हल्की हवा आती है बिजली गुल हो जाती है. इस बार गर्मी अधिक रहने की वजह से लोगों के चेहरे पर मायूसी है और जुबान पर सरकार और व्यवस्था के खिलाफ शिकायत




274 views0 comments