top of page

देश की संसद आरएसएस की शाखा नहीं: बृंदा करात



दुमका। माकपा पोलित ब्यूरो सदस्य वृंदा करात ने दुमका परिसदन में प्रेस से बात की । बृंदा करात ने केंद्र सरकार पर मनमानी कर संसद सत्र चलाने का आरोप लगाया । उन्होंने कहा कि अभी सांसद विपक्ष के साथ मिलकर चलती है पर वर्तमान में जो संसद सत्र समाप्त हुआ उसमें सरकार का रवैया तानाशाही पूर्ण था, विपक्ष की बातें नहीं सुनी गई ,

बृंदा करात ने कहा कि संसद शाखा नहीं है, यह बीजेपी और आरएसएस की संस्कृति से नहीं चल सकती।जहां कोई बहस करे तो उसे बाहर का रास्ता दिखा दिया जाय। उन्होंने कहा कि आजादी के मूल्यों को यह सरकार बुलडोज कर रही है । इस तरह के बर्ताव का हमलोग संसद से लेकर सड़क तक विरोध करेंगे। वृंदा करात ने कहा कि हम आजादी के 75 वां वर्ष मना रहे है स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हम झंडा फहराएंगे और नारा लगाएंगे देश बचाओ, जनवाद बचाओ, शाखा की संस्कृति हटाओ। करात ने दुमका में कोल ब्लॉक आबंटन पर कहा कि दुमका में जो कोल ब्लॉक आवंटित किए गए हैं और ग्रामीणों को जमीन खाली करने का नोटिस थमाया गया है। इसे लेकर ग्रामीणों द्वारा लगातार जो विरोध किया जा रहा है हम उनके साथ हैं। वृंदा करात ने कहा कि ग्रामीणों का विरोध जायज है क्योंकि यह सरकार गरीब के हित में नहीं सोचती है. वह बड़े-बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने का प्रयास करती है

10 views0 comments

Comentários


Post: Blog2 Post
bottom of page