बासुकीनाथ टोल टैक्स बैरियर ठेकेदार अनूप मंडल पर ररंगदारी और धोखाड़ी कर अवैध राशि वसूली का मामला दर्ज


आयुक्त ने संवेदक को ब्लैक लिस्टेड करने का दिया निर्देश

दुमका। आखिरकार बासुकीनाथ के टोल टैक्स बैरियर ठेकेदार अनूप मंडल के विरुद्ध जरमुंडी थाना में प्राप्त अधिकार का दुरुपयोग करने, रंगदारी व धोखाधड़ी का मामला दर्ज हो गया। आयुक्त चंद्रमोहन कश्यप के आदेश पर बासुकीनाथ नगर पंचायत के सिटी मैनेजर सुधांशु शेखर ने उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवायी है। आयुक्त ने संवेदक अनूप मंडल को ब्लैक लिस्टेड करने का भी निर्देश दिया है जिसकी कार्रवाई अभी होनी बाकी है।

जरमुंडी थाना में दिए आवेदन में सिटी मैनेजर ने बताया है कि नगर पंचायत द्वारा विभिन्न वाहनों से बासुकीनाथ में प्रवेश पर टौल टैक्स की दर निर्धारित है। बड़ी गाड़ी से 40, छोटी से 30, छोटे वाहन से 20 और आटो से 10 रुपये के दर से बासुकीनाथ में प्रवेश शुल्क के रूप में लेना था। इसके एवज में वाहन चालक को रसीद देना था। रसीद पर नगर पंचायत कार्यालय एवं ठेकेदार का नाम दर्ज रहना था, लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया जा रहा था। निर्धारित दर से अवैध वसूली को लेकर लगातार मिल रही शिकायत के आधार पर आयुक्त ने टीम बनाकर जांच कराई तो पता चला कि ठेकेदार वाहनों से 40 की जगह 200 रुपैया प्रति वाहन अवैध वसूली कर रहा था।


आयुक्त ने संबंधित ठेकेदार को नोटिस जारी करते हुए कार्यालय में उपस्थित होने को कहा था, इस पर ठेकेदार ने आयुक्त कार्यालय में उपस्थित होकर जवाब के लिए समय मांगा था। जवाब संतोषप्रद नहीं पाए जाने पर कानूनी कार्रवाई करते हुए उसे ब्लैक लिस्टेड करने व प्राथमिकी दर्ज करते हुए इकरारनामा रद करने का आदेश जारी किया था। जांच में पाया गया है कि इस संवेदक ने सात माह के दौरान टौल टैक्स के रूप में निर्धारित शुल्क के अलावा 1.68 करोड़ रूपये की अवैध वसूली की है।



577 views0 comments