दुमका में बार एसोसिएसन का चुनाव सम्पन्न, 2 बजे दिन तक आ जाएंगे नतीजे



दुमका । स्टैट बार कौंसिल के ओर से आये पर्यवेक्षक धर्मेन्द्र नारायण और बालेश्वर सिंह के देखरेख में दुमका बार एसोसिएसन का चुनाव शनिवार को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। बार एसोसिएसन के 16 पदों के चुनाव के लिए शुक्रवार को 396 अधिवक्ताओं में से 372 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया और इस तरह से 94 प्रतिशत (93.93) मतदान दर्ज किया गया। अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव, संयुक्त सचिव (प्रशासन), संयुक्त सचिव (पुस्तकालय), कोषाध्यक्ष, सहायक कोषाध्यक्ष के एक-एक पद और कार्यकारिणी सदस्य के 09 पद के लिए मतदान हुआ। निर्वाची पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार गोराई, सहायक निर्वाची पदाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद सिन्हा और मो राजा के मौजूदगी में अधिवक्ताओं ने तीन बैलेट पेपर में 16 पदों के प्रत्याशियों के नाम के सामने सही का निशान लगाकर उसे मतपेटी में डाला। मतदान 11 बजे दिन से शाम 4 बजे तक चला जिसके बाद मतपेटी को सील कर दिया गया।

मतगणना का काम रविवार को दिन के 11 बजे स्टैट बार कौंसिल द्वारा बनाये गये पर्यवेक्षक धर्मेन्द्र नारायण और बालेश्वर सिंह के देखरेख में शुरू किया जायेगा। ऐसी संभावना जतायी जा रही है कि रविवार को दिन के दो बजे तक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और महासचिव पदों के लिए डाले गये वोटों की गिनती का काम पूरा कर लिया जायेगा। सबसे पहले मतपेटी खोलकर मतपत्रों को निकाला और उसे छांटा जायेगा। इसके बाद तीनों मतपत्रों को अलग-अलग किया जायेगा। सबसे पहले अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और महासचिव पद पर मिले वोटों की गिनती की जायेगी। इसके बाद संयुक्त सचिव (प्रशासन), संयुक्त सचिव (पुस्तकालय), कोषाध्यक्ष और सह कोषाध्यक्ष के वोटों की गिनती होगी। सबसे अंत में कार्यकारिणी सदस्यों को मिले वोटों की गिनती की जायेगी।

चार बजे तक आ जायेगा परिणाम

उन्होंने संभावना जतायी कि मतगणना का काम शाम 4 से 5 बजे तक पूरा कर लिया जायेगा। अध्यक्ष पद के लिए 03, उपाध्यक्ष 04, महासचिव 05, कोषाध्यक्ष 04, सहायक कोषाध्यक्ष 02, संयुक्त सचिव (प्रशासन) 02, संयुक्त सचिव (पुस्तकालय) 02 और कार्यकारिणी सदस्य के 9 पदों के लिए 14 सहित 36 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा।

अध्यक्ष व महासचिव पद होगी सबकी नजर

दुमका। मतगणना के दौरान सभी की नजर बार एसोसिएसन के अध्यक्ष और महासचिव पद पर होगी जिसमें उलटफेर हो सकता है। बार एसेसिएसन के अध्यक्ष पद के लिए पूर्व अध्यक्ष विजय कुमार सिंह और पूर्व अध्यक्ष सत्यनारायण भगत के बीच मुकाबला है। एक वोट के अंतर से पूर्व में गोपेश्वर प्रसाद झा को हराने वाले सत्यनारायण भगत को 2015 में हुए चुनाव में अध्यक्ष पद पर विजय कुमार सिंह ने 274 वोट लेकर 141 मतो के भारी अंतर से शिकस्त दी थी। 2018 में गोपेश्वर प्रसाद झा 165 वोट प्राप्त कर पूर्व अध्यक्ष बिजय कुमार सिंह (158 वोट) को सात वोटों के अंतर से हरा दिया था। 2015 में जहां राघवेन्द्र नाथ पाण्डेय ने पांच बार महासचिव रहे सुबोध चंद्र मंडल को 14 वोटों के अंतर से हरा दिया था वहीं 2018 में सुबोध मंडल ने राघवेन्द्र नाथ पाण्डेय को सात वोटों के अंतर से पराजित कर दिया था।

इस बार महासचिव पद पर जयंत कुमार सिन्हा, राकेश यादव और अनिल कुमार झा के भी चुनाव मैदान में उतरने के कारण चुनावी मुकाबला दिलचस्प हो गया है। उपाध्यक्ष पद के लिए मुकाबला कमल किशोर झा, नीलकंठ झा, मुरलीधर जायसवाल व शशांक शेखर भूई के बीच होना तय है। कोषाध्यक्ष पद के लिए कमोद नारायण झा, विमलेन्दु कुमार, लाला ज्ञान प्रकाश व महादेव महतो के बीच संघर्ष है। सहायक कोषाध्यक्ष पद के लिए पंकज कुमार यादव और प्रदीप कुमार के बीच, संयुक्त सचिव (प्रशासन) के लिए सोमनाथ डे व प्रदीप कुमार तथा संयुक्त सचिव (लाईब्रेरी) के लिए रामफल लायक व सुधेश कुमार सिंह सीधा मुकाबला है। कार्यकारिणी समिति के कुल 9 पदों के लिए प्रवीर कुमार दूबे, सुरेश प्र0 भगत, विभूति भूषण झा, महेंद्र साह, सामंत सहाय, राजकुमार गुप्ता, रेखा प्रसाद, वीणा सिंह, रविन्द्र कुमार-1, त्रिपुरारी कुमार, भोला प्रसाद चौधरी, चन्द्रा भगत गुप्ता, संजय कुमार झा व धनंजय झा खड़े हैं।


92 views0 comments