top of page

अवैध उत्खनन करने वालों खदान के कार्यालय पर चला प्रशासन का बुलडोजर

Updated: Oct 13, 2021


दुमका। दुमका जिले के शिकारीपाड़ा पत्थर उद्योग क्षेत्र में हमेशा अवैध उत्खनन के मामले सामने आते रहते हैं। प्रशासन के द्वारा बीच-बीच में कार्रवाई भी की जाती है लेकिन पत्थरों का अवैध उत्खनन करने वाले फिर से अपने काम में लग जाते हैं। जहां बिना लाइसेंस के लिए स्टोन बाहर करते हैं। इस के अगल-बगल उन लोगों ने अपना आशियाना भी बना रखा था। कोई झोपड़ी में रह कर इस अवैध धंधे को अंजाम देता था तो कोई अच्छे तरीके से शेड बनाकर रखे हुए था। सोमवार की शाम में शिकारीपाड़ा के अंचलाधिकारी राजू कमल ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मकड़ा पहाड़ी गांव के वैसे झोपड़ियों को नष्ट कर दिया जहां रह कर लोगों द्वारा अवैध रूप से पत्थर निकाला जाता था।

इस काम में जेसीबी की सहायता ली गई। यह पहला अवसर था जब इस तरह की कार्रवाई की गई। शिकारीपाड़ा के अंचलाअधिकारी ने बताया कि हम लोग लगातार अवैध खनन और अवैध परिवहन पर कार्रवाई कर रहे हैं। इसी कड़ी में आज अवैध उत्खनन करने वाले लोगों के आशियाने को नष्ट किया गया है। किसी भी स्थिति में अब इस तरह के अवैध धंधे नहीं चलने दिए जाएंगे।






126 views0 comments

Comentários


Post: Blog2 Post
bottom of page