एसीबी ने गोड्डा श्रम अधीक्षक कार्यालय के लिपिक को 5000 घूस लेते रंगे हाथ पकड़ा



दुमका. एसीबी की टीम ने गोड्डा श्रम अधीक्षक कार्यालय के बड़ा बाबू सोनू मरांडी को बुधवार को पांच हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया. एसीबी ने यह कार्रवाई गोड्डा में अडानी पावर झारखंड लिमिटेड के एरिया इंचार्ज राजीव कुमार रंजन के शिकायत पर की. एरिया इंचार्ज राजीव रंजन ने लेबर ऑफिस के बड़ा बाबू पर लेबर लाइसेंस देने के एवज में पांच हजार रुपये घूस मांगने का आरोप लगाते हुए एसीबी से कार्रवाई की मांग की थी.


जानकारी के मुताबिक बीते 30 अप्रैल को राजीव रंजन लेबर लाइसेंस के लिए अभिलेख जमा करने गोड्डा स्थित श्रम अधीक्षक कार्यालय गए थे. श्रम अधीक्षक कार्यालय के बड़ा बाबू सोनू मरांडी ने सभी कागजात लेने के बाद लेबर लाइसेंस जारी करने के एवज में पांच हजार रुपये घूस की मांग की गयी. सोनू मरांडी द्वारा बीते एक मई को सिंगल विंडो सिस्टम से ऑनलाइन जेनरेटेड लाइसेंस के लिए पावती रसीद भी आवेदक को भेजा गया है. बाद में बड़ा बाबू सोनू मरांडी ने आवेदक का फाइल बिना वजह लंबित रखा क्योंकि आवेदक राजीव रंजन घूस नही देना चाहते थे.

अंत मे परेशान हो कर राजीव ने इसकी शिकायत दुमका में एसीबी से की. एसीबी ने मामले में कार्रवाई करते हुए सोनू मरांडी को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया.




49 views0 comments