दुमका सड़क हादसे में दो दोस्तों की मौत


दुमका. रामगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ईटबंधा गांव के पास रविवार की देर रात सड़क दुर्घटना में जोरडीहा गांव के रोहित मिर्धा एवं परमेश्वर मंडल की मौत के बाद सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद ग्रामीणों ने मयूरनाथ गांव के पास बीच सड़क पर दोनों का शव रखकर मार्ग जाम कर दिया. ग्रामीण मुआवजे की मांग कर रहे थे. रविवार देर रात टाटा मैजिक की टक्कर से घायल बाइक सवार रोहित मिर्धा व उसका मित्र परमेश्वर मंडल की दुमका के मेडिकल कालेज अस्पताल में मौत हो गई. रोहित का दो साल का बेटा शिवम कुणाल भी इस दुर्घटना में घायल हो गया. जोरडीहा गांव का रोहित मिर्धा अपने दोस्त परमेश्वर मंडल के साथ अपने ससुराल छोटी रणबहियार पंचायत के आलूबेड़ा गांव गया था. वहां से देर शाम अपनी पत्नी से मुलाकात कर दो वर्ष के बेटा को लेकर वापस लौट रहा था. इसी दरम्यान विपरीत दिशा से आ रही मैजिक ने बाइक में टक्कर मार दी.


सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शवों को परिजन के सुपुर्द कर दिया. पुलिस ने रोहित के मामा अंतु मिर्धा के बयान पर टाटा मैजिक के अज्ञात चालक पर मामला दर्ज किया है. ग्रामीणों ने हादसे के बाद मैजिक में भरा तिलक का सामान लूट लिया. वही सामाजिक कार्यकर्ता जीतलाल राय मौके पर पहुंचे एवं लूटे गए सामान की बरामदगी के लिए धरने पर बैठ गए. पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद सभी सामानों को ढूंढ-ढूंढ कर घर से बरामद किया. दोनों का शव लेकर सोमवार को परिजन जब घर पहुंचे तो ग्रामीणों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया. ग्रामीण ने दोनों मृतकों के परिवार को विधवा पेंशन, पारिवारिक लाभ योजना, प्रधानमंत्री आवास, राशन, मैजिक वाहन के चालक को फांसी की सजा की मांग की है. सूचना मिलने पर रामगढ़ बीडीओ कमलेंद्र कुमार सिन्हा व थाना प्रभारी रुपेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे. बीडीओ ने दोनों शव के अंतिम संस्कार करने के लिए तत्काल 10-10 हजार रुपया के साथ अनाज दिया. बीडीओ ने आश्वासन दिया कि पीड़ित परिवार को जल्द सारी सुविधा का लाभ दिया जाएगा. इसके बाद ग्रामीणों ने जाम समाप्त कर दिया. हम आपको बता दें परमेश्वर मंडल के तीन एवं रोहित मिर्धा के दो छोटे-छोटे बच्चे हैंओर दोनों परिवार के अकेले कमाऊ सदस्य थे.


177 views0 comments