दुमका कोर्ट में हाजिर हुई जामा आजसू प्रत्यासी स्टेफी

निजी सहायक के खिलाफ दर्ज मामले में दी गवाही



दुमका । विधानसभा चुनाव के समय अपने निजी सहायक अश्विनी कुमार सिंह के दर्ज कराये गये मामले में आईएएस अधिकारी की पत्नी डा स्टेफी टेरेसा मुर्मू ने शनिवार को दुमका के विशेष न्यायाधीश तौफीकुल हसन के अदालत में अपना बयान दर्ज करवाया। दरअसल 2019 में दर्ज एससी एसटी केस में डा टेरेसा के निजी सहायक रहे अश्विनी कुमार सिंह को हाल में ही जामा की पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है। अश्विनी के जमानत की सुनवाई हो रही थी तभी इस केस के वादी स्टेफी को नोटिस जारी किया गया था। विशेष न्यायाधीश तौफीकुल हसन ने स्टेफी से घटना के बारे में पूछा। यहां बता दें कि 2019 के विधानसभा चुनाव के दौरान आजसू पार्टी से जामा सीट से प्रत्याशी रही डॉ स्टेफी टेरेसा मुर्मू ने अपने निजी सहायक अश्विनी कुमार सिंह पर जाति सूचक गाली देने, मारपीट करने, मोबाइल और 15 हजार रुपये छिनने का आरोप लगाते हुए 14 दिसंबर 2019 को जामा थाना में कांड संख्या 136/19 के तहत प्राथमिकी दर्ज करायी थी। इस घटना के बाद से ही आरोपी दुमका छोड़ रांची चला गया जहां से उन्हें गिरफ्तार किया गया है। डा टेरेसा के पति संजीव कुमार बेसरा झारखंड सरकार में पर्यटन विभाग में उपसचिव के पद पर कार्यरत हैं। वह जो जामा थाना क्षेत्र के नाचांगड़िया पंचायत के आला डुमरिया गांव के रहनेवाले हैं।

256 views0 comments