दुमका में ठनका के चपेट में आयी युवती पर लगया मिट्टी का लेप

परिजनों का विश्वास था कि ऐसे करने से जी उठेगी एलिजाबेथ मुर्मू



दुमका । गोपीकांदर थाना क्षेत्र के दलदली गांव के कमार टोला के एक 18 वर्षीय युवती एलिजाबेथ हांसदा पर आकाशी बिजली गिर गयी जिससे वह निस्प्राण हो गयी। आनन फानन में परिजन उसे लेकर घर आये और फिर उसे होश में लाने के लिए कुछ ऐसा किया जिसके बारे में इससे पहले नहीं सुना गया है। घरवालों ने मिट्टी और गोबर का लेप तैयार किया और उसे युवती के शरीर पर उसी तरह से लगाया जिस तरह से मिस्र में ममी को सुरक्षित रखने के लिए शव पर विभिन्न रसायनों का लेप लगाया जाता है। युवती के चेहरे को छोड़कर गोबर और मिटी के लेप से उसके पूरे शरीर पर एक मोटा लेयर लगा दिया गया। घरवाले इतजार करने लगे कि युवती उठ कर बैठ जायेगी। पर ऐसा हुआ नहीं क्योंकि वज्रपात से युवती की पहले ही मौत हो चुकी थी। वज्रपात की चपेट में 45 वर्षीय एक महिला घायल हो गयी। यह घटना सोमवार के दोपहर तीन बजे के करीब की बतायी जा रही है। युवती और महिला जब खेत से काम कर घर वापस लौट रही थी इसी बीच दोनों ब्रजपात के चपेट में आ गये। इस घटना में 18 वर्षीय एलिजाबेथ हांसदा की मौत हो गई एवं उसकी साथी होपनी मुर्मू घायल हो गयी। सूचना मिलने पर गोपीकांदर थाना के थाना प्रभारी बिलकन बागे पुलिस बल साथ घटनास्थल पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। बता दें कि सोमवार के दोपहर समय में गोपीकांदर थाना क्षेत्र में भारी बारिश एवं ब्रजपात के साथ तेज हवाएं चली थी और वज्रपात भी हुआ था। घायल महिला होपनी मुर्मू सुरक्षित बतायी जाती है।

748 views0 comments