दुमका में अवेध पशु तस्करी चरम पर,4500 रुपये लेकर पास कराते है पशु लदे ट्रक और कंटेनर


भाजपाइयों के विरोध के कारण पांच पशु लदे वाहन को किया जब्त

रामगढ़। ग्रामीणों ने गाय-भैंस ठूंसकर ले जा रहे पांच ट्रकों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। ग्रामीणों ने रामगढ़ हाई स्कूल के गेट के पास 5 ट्रकों में लोड दर्जनों की संख्या में अवैध मवेशियों को देखा और थाना प्रभारी रूपेश कुमार को सूचना दिया कि हंसडीहा होते हुए दुमका की ओर 5 ट्रकों में अवैध पशु की तस्करी के लिए बांग्ला देश ले जाया जा रहा है। रामगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची और पांचो ट्रकों को मवेशियों समेत जब्त कर लिया। एक माह पूर्व भी रामगढ़ दुमका मुख्य मार्ग पर रामगढ़ बाजार में एक कंटेनर जो बीच सड़क में गड्ढे में फंस जाने के कारण ग्रामीणों ने कंटेनर में 36 बंद मवेशियों को कंटेनर के साथ रामगढ़ पुलिस के हवाले किया था। हंसडीहा की ओर से संध्या 5ः00 बजे लगभग रामगढ़ दुमका सड़क मार्ग पर पांचों ट्रकों में लोड दर्जनों मवेशियों को रामगढ़ के रास्ते कोलकाता ले जाया जा रहा था। भाजपा प्रखंड अध्यक्ष सुरेश गुप्ता ने इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाया। थाना प्रभारी रूपेश कुमार ने बताया कि जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।ं समाचार लिखे जाने तक मवेशियों की निश्चित संख्या पता नहीं लग रहा है। ट्रक ड्राइवर ने कहा कि रामगढ़ मोहनपुर के पास पिंटू नामक एक व्यक्ति जो अपने आप को पशु चिकित्सक कहकर 4500 रुपैया लेकर गाड़ी आगे ले जाने को कहा। पशु गाड़ियों की पासिंग दुमका जिले में वृहद पैमाने पर होती है। एक वाहन के लिये 4500 से 5000 तक वसूला जाता है। विरोध करने वाले एकाध बार विरोध करते है फिर हिस्सेदार बन जाते है इसलिए दुमका हंसडीहा, मसलिया एवं रामगढ़ से होते हुए बांग्ला देश तक पशु तस्करी के सुलभ रास्ता माना जाता है।



253 views0 comments