दुमका में मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा, पुलिस ने जब्त किए बन्दूक ओर देशी पिस्टल के नाल



दुमका । पटना पुलिस की सूचना पर शिकारीपाड़ा थाना की पुलिस ने बुधवार को पत्ताबड़ी चौक से एक मीटर दूूर मसानजोर जाने वाले रास्ते में राधे रिवोरिंग नामक एक वेल्डिंग फिटिंग के वर्कशॉप की आड़ में चल रही मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने यहां से करीब दो दर्जन अर्धनिर्मित बंदूक व तमंचा की नाल बरामद करते हुए तीन युवकों को हिरासत में लिया है। कारखाना का सारा सामान जब्त कर बंद कर दिया गया है। बुधवार की शाम पुलिस ने क्रेन बुलाकर हथियार बनानेवाली लेथ मशीन समेत कारखाना का सारा सामान निकाल कर डंपर में लोड किया और शिकारीपाड़ा थाना ले आयी जबकि कारखाने को बंद कर दिया गया है।


एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी ने बताया कि लेथ कारखाने की आड़ में चल रही मिनी गन फैक्ट्री का उदभेदन हुआ है। तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। रात को सभी से गहराई से पूछताछ की गई। हथियारों को बनाने का कुछ अर्धनिर्मित सामान भी मिला है। जांच पूरी होने के बाद गुरूवार को इसका खुलासा किया जाएगा। नगर थाना प्रभारी देवव्रत पोददार को पटना पुलिस से जानकारी मिली कि शिकारीपाड़ा क्षेत्र में लेथ कारखाना की आड़ में अवैध रूप से हथियार बनाए जाते हैं। इस सूचना के बाद एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी और शिकारीपाड़ा थाना की पुलिस कारखाना पहुंची और छानबीन की। पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लेकर तलाशी ली तो दो दर्जन बंदूक व तमंचा की नाल मिली। इससे स्पष्ट हो गया कि यहां पर अवैध रूप से मिनी गन फैक्ट्री चल रही थी। कारखाना के संचालक समेत तीन को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। यह जानने का प्रयास किया जा रहा है कि कब से हथियार बन रहा था और कहां कहां इसकी आपूर्ति की गई या फिर की जाने वाली थी। इसमें बाहर के और कौन लोग शामिल हैं।




445 views0 comments